news

IPS बनाना चाहते थे पिता, बना ‘आतंकवादी’… जानें लॉरेंस बिश्नोई के जन्म से लेकर गैंगस्टर बनने की पूरी कहानी

IPS बनाना चाहते थे पिता, बना ‘आतंकवादी’… जानें लॉरेंस बिश्नोई के जन्म से लेकर गैंगस्टर बनने की पूरी कहानी – 

 

दुतरनवाली गांव के रहने वाला लॉरेंस बिश्नोई किसी भी अन्य बच्चे की तरह बड़ा हुआ। पढ़ाई की। मां ने हमेशा उसके लिए मंहगे, फैशनेबल कपड़े खरीदे। उसे बहुत लाड़-प्यार से पाला। बिश्नोई एक अनुशासित बच्चा था और फाजिल्का में नियमित रूप से स्कूल जाता था। डीएवी कॉलेज में दाखिला लेने के बाद वह चंडीगढ़ शिफ्ट हो गए। एक अमीर, अच्छा दिखने वाला बच्चा, जल्दी ही कॉलेज में लोकप्रिय हो गया।

पंजाब के फाजिल्का में 22 फरवरी 1992 को एक बच्चे ने जन्म लिया। उसका शाइनी और खूबसूरत चेहरा देखकर गांव का हर शख्स उसे गोद में लेने के लिए आतुर रहता। मां ने बेटे का नाम प्यार से लॉरेंस रखा। एक पुलिसवाले के बेटे लॉरेंस के लिए उसके पिता ने बड़े सपने देखे। तीन दशक बाद, लॉरेंस बिश्नोई एक आतंकवादी है, जिसके खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी और दिल्ली पुलिस ने गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

पुलिस विभाग में थे पिता, बनाना चाहते थे आईपीएस

लॉरेंस बिश्नोई के पिता चाहते थे कि उनका बेटा बड़ा होकर आईपीएस ऑफिसर बने।

छात्रसंघ चुनाव में हार नहीं हुई बर्दाश्त

शुरुआती पढ़ाई के बाद वह चंडीगढ़ के डीएवी कॉलेज पहुंचा। यहां लॉरेंस कॉलेज में छात्रसंघ का चुनाव लड़ा और हार गया। बचपने से उसे इस तरह पाला गया था कि उसे हार बर्दाश्त नहीं हुई।

2011 में हाथापाई के बाद किया ओपन फायर

फरवरी 2011 में उसकी कॉलेज में हाथापाई हुई, इस दौरान उसने ओपन फायर किया और उसके खिलाफ पहली एफआईआर दर्ज हुई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button